हम हिंदुस्तानी

पुलवामा हमले के शहीदों को भावभीनी श्रद्धाजंलि

वो बृहस्पतिवार का दिन था। उस दिन वैलेंटाइंस डे भी था। हालांकि जवानों के लिए इस दिन की बहुत ज्यादा अहमियत नहीं होती क्योंकि वो अपने परिवार-पत्नी-प्रेमिका से दूर ड्यूटी पर तैनात रहते हैं। 14 फरवरी के दिन तड़के सीआरपीएफ काफिले में शामिल जवानों ने सोचा भी नहीं था कि यह उनकी जिंदगी का सबसे… Continue reading पुलवामा हमले के शहीदों को भावभीनी श्रद्धाजंलि

इतिहास के गलियारे से

नेता जी सुभाष चन्द्र बोस त्यागपत्र

तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आज़ादी दूंगा नेताजी सुभाष चन्द्र बोस ने 1920 में इंग्लैंड में इंडियन सिविल सर्विस एग्जामिनेशन क्लियर किया था। लेकिन जब उन्होंने आजादी के लिए भारत की लड़ाई के बारे में सुना तो अप्रैल, 1921 को जॉब छोड़ दी थी। भारत के स्वतंत्रता संग्राम के महान नायक का त्यागपत्र (सौजन्य:… Continue reading नेता जी सुभाष चन्द्र बोस त्यागपत्र

सीएए/एनआरसी- महत्वपूर्ण तथ्य, हम हिंदुस्तानी

बलात्कारियों को भी बचाओ ?

अब कोई इतना मूर्ख तो हो नहीं सकता कि CAA और NRC में फ़र्क या ये क्यों ज़रूरी हैं ये न समझे।असली मुद्दे पर आओ?बहाना क्यों बना रहे हो?रही बात हिंदू शरणार्थियों को नागरिकता देने की।अरे! जब इन कट्टर मुसलमानों ने भारत के अंदर कश्मीर से कश्मीरी पंडितों को बेरहमी से निकाल दिया। तो इन… Continue reading बलात्कारियों को भी बचाओ ?

हम हिंदुस्तानी

ऐ! मेरे वतन के लोगों

ऐ! मेरे वतन के लोगों जरा आँख में भर लो पानी, इतनी जल्दी कैसे तुम भूले कश्मीर की वो दर्द भरी कहानी... कश्मीर में हिंदुओं पर कहर टूटने का सिलसिला 1989 जिहाद के लिए गठित जमात-ए-इस्लाम ने शुरू किया था।14 सितंबर 1989 को भाजपा के नेता पंडित टीका लाल टपलू को कई लोगों के सामने… Continue reading ऐ! मेरे वतन के लोगों

सीएए/एनआरसी- महत्वपूर्ण तथ्य, हम हिंदुस्तानी

बदलाब जरूरी हैं

मेरी आदत है ग़लत बात बर्दाश्त नहीं!!! चुप रहकर खामोशी से सब सहना आ जाता तो कभी लेखिका न बन पाती। प्रेम और क्रोध दोनों ही आते हैं। अपनी इस आदत पर मुझे स्वाभिमान ही महसूस होता है इसी की वजह से दिमाग़ में समस्याएं और उनके उपाय स्वतः घूमते रहते हैं। मेरा मानना है… Continue reading बदलाब जरूरी हैं

सीएए/एनआरसी- महत्वपूर्ण तथ्य, हम हिंदुस्तानी

नागरिकता बनाम जनगणना

कल 24 दिसंबर को हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में यह फैसला लिया गया कि देश में राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर यानी एनपीआर को आगे बढ़ाया जाएगा। यह फैसला ऐसे समय लिया गया है, जब देशभर में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) का विरोध किया जा रहा है। हालांकि सरकार ने अब… Continue reading नागरिकता बनाम जनगणना

सीएए/एनआरसी- महत्वपूर्ण तथ्य, हम हिंदुस्तानी

शरणार्थी हिंदू भाइयों का क्या दोष ??

भारत विभाजन से पहले मुसलमानों की संख्या भारत की कुल आबादी का 10 प्रतिशत थी, जो आज बढ़कर लगभग 15 प्रतिशत हो गई है। आज़ादी के वक्त पाकिस्तान में कुल 428 मंदिर थे, जिनमें से अब सिर्फ 26 ही बचे हैं। माइनॉरिटी राइट ग्रुप इंटरनेशनल के मुताबिक 2-8 दिसंबर, 1992 के दौरान पाकिस्तान में तकरीबन… Continue reading शरणार्थी हिंदू भाइयों का क्या दोष ??

हम हिंदुस्तानी

राष्ट्र भाषा

हिंदी का उत्थान ज़रूरी है क्योंकि मातृभाषा में समझना और समझाना दोनों आसान होता है। हिंदी हमारी राष्ट्र भाषा है सबको जोड़ने की भाषा है।इससे विमुख होना हमें महेंगा पड़ेगा।