हम हिंदुस्तानी

पुलवामा हमले के शहीदों को भावभीनी श्रद्धाजंलि

वो बृहस्पतिवार का दिन था। उस दिन वैलेंटाइंस डे भी था। हालांकि जवानों के लिए इस दिन की बहुत ज्यादा अहमियत नहीं होती क्योंकि वो अपने परिवार-पत्नी-प्रेमिका से दूर ड्यूटी पर तैनात रहते हैं। 14 फरवरी के दिन तड़के सीआरपीएफ काफिले में शामिल जवानों ने सोचा भी नहीं था कि यह उनकी जिंदगी का सबसे… Continue reading पुलवामा हमले के शहीदों को भावभीनी श्रद्धाजंलि

हम हिंदुस्तानी

बात कड़वी पर सच्ची है

दर्द था पुराना, ज़ख्म थे गहरे, फिर भी कुछ अंधे बने रहे कुछ बहरे, फिर मोदी नाम की एक दवा आई पहली बार आज़ाद हिंद में... आज़ादी की हवा आई!   📣📢📢📢📢📢📣 जब समय मिले इसे ज़रूर देखें👇क्योंकि आपका जागना ज़रूरी है तभी  समाज को जगा पाएंगे🙏🙏🙏 https://youtu.be/E9DcOAWPIQQ

इतिहास के गलियारे से

नेता जी सुभाष चन्द्र बोस त्यागपत्र

तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आज़ादी दूंगा नेताजी सुभाष चन्द्र बोस ने 1920 में इंग्लैंड में इंडियन सिविल सर्विस एग्जामिनेशन क्लियर किया था। लेकिन जब उन्होंने आजादी के लिए भारत की लड़ाई के बारे में सुना तो अप्रैल, 1921 को जॉब छोड़ दी थी। भारत के स्वतंत्रता संग्राम के महान नायक का त्यागपत्र (सौजन्य:… Continue reading नेता जी सुभाष चन्द्र बोस त्यागपत्र

हम हिंदुस्तानी

क्या आप भी कभी हाथ बढ़ाएंगे…?

मन की बात मैं एक लेखिका हूँ मेरी रचनाएं मेरी सोच दर्शाती है। मैंने हर धर्म की बराबर इज्ज़त की, खुशियाँ बांटीं। पढ़िए मेरी FB वाल को (https://www.facebook.com/kusumgoswamikim) कुछ पोस्ट मेरे पेज Kim's Feelings and Friends https://www.facebook.com/goswamikim पर भी मिल जाएंगी। मैंने महसूस किया एक के सेक्युलर होने का फायदा दूसरा उठाता है। कहीं संतुलन… Continue reading क्या आप भी कभी हाथ बढ़ाएंगे…?

सीएए/एनआरसी- महत्वपूर्ण तथ्य, हम हिंदुस्तानी

बलात्कारियों को भी बचाओ ?

अब कोई इतना मूर्ख तो हो नहीं सकता कि CAA और NRC में फ़र्क या ये क्यों ज़रूरी हैं ये न समझे।असली मुद्दे पर आओ?बहाना क्यों बना रहे हो?रही बात हिंदू शरणार्थियों को नागरिकता देने की।अरे! जब इन कट्टर मुसलमानों ने भारत के अंदर कश्मीर से कश्मीरी पंडितों को बेरहमी से निकाल दिया। तो इन… Continue reading बलात्कारियों को भी बचाओ ?

हम हिंदुस्तानी

ऐ! मेरे वतन के लोगों

ऐ! मेरे वतन के लोगों जरा आँख में भर लो पानी, इतनी जल्दी कैसे तुम भूले कश्मीर की वो दर्द भरी कहानी... कश्मीर में हिंदुओं पर कहर टूटने का सिलसिला 1989 जिहाद के लिए गठित जमात-ए-इस्लाम ने शुरू किया था।14 सितंबर 1989 को भाजपा के नेता पंडित टीका लाल टपलू को कई लोगों के सामने… Continue reading ऐ! मेरे वतन के लोगों

सीएए/एनआरसी- महत्वपूर्ण तथ्य, हम हिंदुस्तानी

CAB और NRC- आख़िरी मौका

गौर से पढें, क्यूँ भारत के अस्तित्व के लिए CAB और NRC आख़िरी मौका हैं 👇👇👇📢 लेबनान की कहानी 70 के दशक में लेबनान अरब का एक ऐसा मुल्क था। जिसे अरब का स्वर्ग कहा जाता था । और इसकी राजधानी बेरूत को अरब का पेरिस। लेबनान एक progressive, tolerant और multi-cultural society थी, ठीक… Continue reading CAB और NRC- आख़िरी मौका

सीएए/एनआरसी- महत्वपूर्ण तथ्य, हम हिंदुस्तानी

बदलाब जरूरी हैं

मेरी आदत है ग़लत बात बर्दाश्त नहीं!!! चुप रहकर खामोशी से सब सहना आ जाता तो कभी लेखिका न बन पाती। प्रेम और क्रोध दोनों ही आते हैं। अपनी इस आदत पर मुझे स्वाभिमान ही महसूस होता है इसी की वजह से दिमाग़ में समस्याएं और उनके उपाय स्वतः घूमते रहते हैं। मेरा मानना है… Continue reading बदलाब जरूरी हैं