हम हिंदुस्तानी

ये कैसी सांप्रदायिकता

थूकबाज़ उर्फ़ पत्थरबाज़ उर्फ़ जिहादी उर्फ़ मानवबम उर्फ़ आतंकवाद एक ही कौम है पर नाम लेते हीआप सांप्रदायिक कहलाएंगे। ये अंधापन,अन्याय है। कुसुम गोस्वामी